Rohit Sharma biography in Hindi: रोहित शर्मा का जीवन परिचय

Rohit Sharma biography in Hindi: रोहित शर्मा का जीवन परिचय


Rohit Sharma biography in Hindi, रोहित शर्मा एक ऐसा नाम जिसे आज दुनिया का हर इंसान जानता है।
भारतीय क्रिकेट टीम के उप कप्तान रोहित शर्मा को यह मुकाम हासिल करने में बहुत संघर्ष करना पड़ा। उनके
जीवन में कई कठिनाइयां आई वहां हर एक कठिनाइयों को दूर करते हुए जीवन में आगे बढ़ते रहें और आज भारत
ही नहीं विदेशों में भी उनका नाम मशहूर है।


रोहित शर्मा का परिचय-


रोहित शर्मा का जन्म 30 अप्रैल 1987 को महाराष्ट्र के नागपुर में हुआ। रोहित शर्मा का पूरा नाम रोहित गुरुनाथ शर्मा
हें। तथा पिता का नाम गुरु नाथ शर्मा है और माता का नाम पूर्णिमा शर्मा है। रोहित शर्मा की जर्सी का नंबर 45 है।
रोहित का पूरा नाम उनके पिता के नाम पर ही रखा गया। रोहित शर्मा को भारत में उनके उपनाम हिटमैन के
नाम से भी जाना जाता है।


रोहित शर्मा बचपन से ही क्रिकेट मैं रुचि रखते थे। टीवी पर आने वाले किसी भी मैच को मिस नहीं करते थे और
अपने गांव की गली में भी वहां क्रिकेट खेलते थे। रोहित शर्मा के बारे में यहां भी कहा जाता है कि वहां जब गली
में क्रिकेट खेलते थे तो वहां स्थित बिल्डिंग्स की विंडोस के कांच को अपने शांट से तोड़ दिया करते थे।


रोहित शर्मा के पिता गुरु नाथ शर्मा ट्रांसपोर्ट फार्म हाउस में काम करते थे। प्रारंभिक जीवन में रोहित शर्मा के परिवार को जीविका के
लिए काफी संघर्ष करना पड़ा।पैसों की कमी होने के कारण रोहित शर्मा का बचपन अपने दादाजी के साथ बिता वह अपने माता पिता
से मिलने कभी-कभी आते थे।


रोहित बचपन से ही क्रिकेट के प्रति आकर्षित थे बाद में जाकर उनके चाचा ने उन्हें क्रिकेट गेम पर में भर्ती करवा दिया।रोहित की
प्रतिभा को देखकर वहां के कोच दिनेश लाल ने उन्हें स्कॉलरशिप दिलवाकर रोहित का स्कूल बदलवा दिया।रोहित ने अपने करियर
की शुरुआत एक गेंदबाज के रूप में की थी लेकिन बाद में उनकी बैटिंग प्रतिभा भी धीरे-धीरे निखर कर सामने आई जब उन्होंने स्कूल
के एक मैच में शतक लगाया था।


रोहित शर्मा का अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में आगमन


रोहित को नियमित ओवरों के खेल में 2008 में भारतीय क्रिकेट टीम ने आयरलैंड का दौरा किया उसमें शामिल किया गया था।
इसके बाद उन्होंने अपने एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की शुरुआत बेलफास्ट में आयरलैंड टीम के खिलाफ की, हालांकि उन्हें इस
मैच में बैटिंग करने का मौका नहीं मिला।


रोहित शर्मा द्वारा बनाया गया पहला अर्धशतक


18 नवंबर 2007 को राजस्थान के जयपुर के सवाई मानसिंह स्टेडियम पर पाकिस्तान के खिलाफ बल्लेबाजी करते हुए रोहित ने
अपना पहला एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अर्ध शतक लगाया।
चयनकर्ताओं को सोचने पर मजबूर किया


2009 में इन्होंने रणजी ट्राफी के एक मैच में तिहरा शतक जड़ दिया था। जिसके कारण चयनकर्ताओं को इन्होंने सोचने पर मजबूर कर
दिया और चयनकर्ताओं ने उन्हें त्रिकोणीय श्रृंखला के लिए बांग्लादेश में वनडे टीम में वापस बुलाया गया था क्योंकि उस समय सचिन
तेंदुलकर को आराम दिया गया था।


विराट कोहली और सुरेश रैना अंतिम एकादश में इनसे पहले चयनित किया गया था लेकिन उनको भारत के 5 मैचों में से किसी में
नहीं खिलाया गया

वीवीएस लक्ष्मण को चोट लगने पर मिला मौका टेस्ट टीम में


रोहित शर्मा को 2010 में भारतीय टेस्ट टीम के लिए बुलाया गया क्योंकि उस दौरान वीवीएस लक्ष्मण चोट से जूझ रहे थे इस कारण
शर्मा को अपना पहला टेस्ट मैच खेलने का मौका दिया गया।


लेकिन बाद में बल्लेबाज के बजाय बल्लेबाज और विकेटकीपर दोनों के लिए रिमांड सा को शामिल किया गया।


रोहित शर्मा द्वारा बनाया गया पहला वनडे शतक


रोहित ने अपना पहला वनडे शतक 28 मई 2010 को जिंबाब्वे क्रिकेट टीम के खिलाफ बनाया था उस मैच में उन्होंने 114 रनों
की पारी खेली थी।


अगले ही मुकाबले में 30 मई 2010 को त्रिकोणीय श्रृंखला में श्रीलंका के खिलाफ एक और शतक लगा दिया था उस मैच में रोहित ने
नाबाद110 रन बनाए।


रोहित शर्मा द्वारा बनाया गया वनडे में पहला दोहरा शतक


अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे पहले दोहरा शतक लगाने का रिकॉर्ड सचिन तेंदुलकर के नाम है जो भारत की टीम के बल्लेबाज थे सचिन
तेंदुलकर ने यह कारनामा 24 फरवरी 2010 को भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच खेले गए मैच में किया था यहां मैच ग्वालियर में
खेला गया था।इस मैच में सचिन तेंदुलकर ने नाबाद 200 रन बनाए थे।


अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में दूसरा दोहरा शतक वीरेंद्र सहवाग के नाम है उन्होंने यह कारनामा इंदौर के होल्कर स्टेडियम में भारत और
वेस्टइंडीज के बीच खेले गए मैच में किया गया था। यहां मैच 8 दिसंबर 2011 को खेला गया था। इस मैच में सहवाग ने 219 रन
बनाए थे।

रोहित ने अपने वनडे करियर का पहला दोहरा शतक ऑस्ट्रेलिया टीम के खिलाफ बनाया। इस मैच में रोहित ने 209 रन
बनाए जो उनका वनडे करियर में पहला दोहरा शतक था। रोहित ने यह दोहरा शतक 2 नवंबर 2013 को बेंगलुरु के मैदान पर
लगाया था।


रोहित शर्मा द्वारा वनडे में बनाए गए सबसे ज्यादा 264 रन


रोहित के नाम एक ऐसा रिकॉर्ड है जो अभी तक विश्व का कोई भी बल्लेबाज नहीं तोड़ पाया है। 13 नवंबर 2014 को कोलकाता
के मैदान में भारत और श्रीलंका के बीच खेले गए मैच में रोहित शर्मा ने अपने वनडे करियर की सर्वश्रेष्ठ पारी खेली।


यहां पारी खेलते हुए रोहित ने अंतरराष्ट्रीय वनडे करियर में 264 रन बनाए जो अभी तक क्रिकेट इतिहास में बनाए गए सबसे
ज्यादा रन है।

https://hindidhaam.com/


रोहित शर्मा विश्व के ऐसे पहले बल्लेबाज जिनके द्वारा वनडे में तीन दोहरे शतक लगाए गए


पहला दोहरा शतक ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 2 नवंबर 2013 को लगाया गया जिसमें रोहित ने 209 रन की पारी खेली।


दूसरा दोहरा शतक रोहित शर्मा ने श्रीलंका के खिलाफ 13 नवंबर 2014 को लगाया जिसमें रोहित ने 264 रन की पारी खेली।


तीसरा दोहरा शतक रोहित शर्मा ने श्रीलंका के खिलाफ 13 दिसंबर 2017 को लगाया जिसमें रोहित नेे 208 रन की पारी
खेली।


रोहित शर्मा द्वारा t20 में बनाया गया पहला शतक


रोहित शर्मा द्वारा t20 में पहला शतक 2 अक्टूबर 2015 को साउथ अफ्रीका के खिलाफ लगाया इस पारी के दौरान रोहित ने
106 रनों की शानदार पारी खेली।

रोहित शर्मा का आईपीएल करियर


रोहित शर्मा इंडियन प्रीमियर लीग में सबसे पहले डेक्कन चार्जर्स टीम में शामिल हुए। इस टीम में रहते हुए उन्होंने 2007 में सबसे
ज्यादा रन भी बनाए। 2007 से 2011 तक यहां डेक्कन चार्जर्स के लिए खेलें। तथा 2011 में रिकी पोंटिंग के संन्यास लेने के बाद यहां
मुंबई इंडियंस टीम के कप्तान बने।


मुंबई इंडियंस के कप्तान बनने के बाद यहां एक अलग ही रूप में दिखे इनकी कप्तानी की चर्चा सभी जगह होने लगी। और यहां भी और
यहां लोगों की उम्मीदों पर खरा उतरे और मुंबई इंडियंस को आईपीएल का खिताब चार बार दिलाया।


पहली बार रोहित की कप्तानी में मुंबई इंडियंस ने 2013 में आईपीएल का खिताब अपने नाम किया।

दूसरी बार यही खिताब रोहित की कप्तानी में मुंबई इंडियंस ने 2015 में अपने नाम किया।


तीसरी बार रोहित की कप्तानी में ही मुंबई इंडियंस ने यहां खिताब 2017 में अपने नाम किया।


चौथी बार मुंबई इंडियंस ने यहां खिताब 2019 में चेन्नई सुपर किंग्स को हराकर अपने नाम किया।


रोहित शर्मा का विवाह


रोहित शर्मा ने 13 दिसंबर 2015 को अपनी बचपन की दोस्त और स्पोर्ट्स मैनेजर रितिका सजदेह के साथ शादी कर ली।


पुरस्कार


रोहित शर्मा को सन 2015 में अर्जुन पुरस्कार से नवाजा गया। जो हर साल भारत सरकार द्वारा राष्ट्रीय स्तर पर भारत के लिए कुछ
अच्छा करने वाले खिलाड़ियों को दिया जाता है।
वनडे में दो दोहरे शतक लगाने के कारण 2013 और 2014 में सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज के लिए ईएसपीएन पुरस्कार दिए गए।
दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ t20 में शतक लगाने के कारण 2014 में t20 का सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज के लिए ईएसपीएन पुरस्कार दिया
गया।

One thought on “Rohit Sharma biography in Hindi: रोहित शर्मा का जीवन परिचय

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: